Best Romantic Propose Shayari in Hindi

Explore a collection of over 100 heartwarming Romantic Propose Shayari, filled with love and emotion, perfect for expressing your feelings to the one you adore. Let these poetic verses be your guide in professing your love.

Romantic Propose Shayari

आज फिर से हवा ने रुख बदला है
आज फिर से फ़िज़ाओं में रंग ढाला है
मेरे दिल को हमा हो रहा है एहसास
शायद किसी से इकरार होने वाला है।

आँखे खोलू तो चेहरा तुम्हारा हो
बंद करू तो सपना तुम्हारा हो,
मर भी जाऊ तो कोई गम नहीं,
अगर कफन के बदले अचल तुम्हारा हो।

ना जाने वो कौन तेरा हबीब होगा
तेरे हाथो में जिस्का नसीब होगा
कोई तुम्हें चाहे ये कोई बड़ी बात नहीं
जिसको तुम चाहो वो खुश नसीब होगा…

इस दिल का कहा मनो एक काम कर दो..
एक बे-नाम सी मोहब्बत मेरे नाम करदो
मेरी जात पर फकत इतना एहसान कर दो..
किसी दिन सुबह को मिलो,
या शाम कर दो..!!

वो इस तरह से इश्क अपना लेते हैं,
तोड़ कर बागों से के फूल ले आते हैं,
हम कहते हैं उनको कुछ भी जुबान से,
नजाने कैसे वो मेरे दिल की हर बात समझ जाते हैं

उस की याद याद बन गई है
जो दिल में दो पल थेहर गया है कोई

प्यार में मिलना ज़रुरी नहीं,
प्यार में इज़हार भी ज़रुरी नहीं,
ज़रुरी सिरफ़ एहसास है जो ज़िंदगी सवारे,
उन्हे पाना या ना पाना ज़रुरी नहीं…

आगर मैं गुजर जाउ तो मुझे माफ करना,
तेरे दिल में उतर जाउ तो मुझे माफ करना,
रात में तुझे देख के तेरे दीदार की ख़तीर,
पल भर जो ठहर जाऊं तो मुझे माफ करना!

क्या कारू अब,
दिल को न जाने क्यों मासूम लगती हो तुम,

नहीं तुम से कोई शिकायत
बस इतनी सी ख्वाही है
जो हाल कर गए हो कभी आ कर देख जाना

क्यू बार बार खुद को आईने में देख कर
मेरी इकलौती मोहब्बत को नज़र लगाते हो

माना हम हलात से मजबूर रहते हैं
फिर भी तेरे ख्यालों में चुर रहते हैं
आखों में रहती है तस्वीर तुम्हारी
क्या हुआ जो हम तुमसे दूर-दूर रहते हैं

इतने खूबसूरत हो तुम,
और कितने हो प्यारी तुम,
सच में हो या फिर हम मिले हैं इत्तिफाक से,

मेरी जिंदगी का रखवाला तू
फ़िर क्यो करू में फ़िकर जमाने की
मेरे साथ होता है हर पल
तू फिर क्या मजाल दुख के पास आने की

वो अक्सर हमसे पूछते थे..
जिंदगी क्या या मौत क्या है ??
हम दिल ही दिल में कहते हैं,
तुझे पा लिया तो जिंदगी,
तुझे खो दिए

जितना प्यार है आपसे,
उससे और ज्यादा पाने को जी चाहता है,
जाने वो कौनसी खूबसूरत है आप में,
की हर रिश्ता आपसे बनने को जी चाहता है।

यादो मैं कभी आप भी खोए होंगे
खुली आंखों से कभी आप भी सोये होंगे
माना हसना है आदत गम चुपाने की
पर जल्दबाजी कभी आप भी रोए होंगे।

कुछ सिमटी हुई छोटी सी दुनिया है मेरी,
इस दिल की गहरियों में आपको ले जाऊं कैसे।

Romantic Propose Shayari

चलो मुस्कान की वजह धुंढते हैं
तुम हम दोनों हम तुम ढूंढते हैं

मुस्कान बन जाता है कोई,
दिल की धड़कन बन जाता है कोई,
कैसे जिये एक पल भी उन के बिन,
जब जिंदगी जीने की वजह बन जाता है कोई।

कितनी प्यारी हवाएं चल रही हैं
लगता है नायक इंसान मार गया है कोई

मुद्दतों के बात धूप निकली है
गिले ज़ज़्बे सुखा रहे हैं हम

मुझसे मत पुछ की क्यूं आंखें झुका ली मैने..
आँखों में वो तुझी से छू में तेरी तस्वीर थी

हम इतना नहीं हो स्का के तुम्हारे भुला दे,
एक तुम हो जो कभी भूले से भी मुझे याद नहीं करते!

अपने हसीन होथो को किसी परदे में छुपा लिया करो,
हम जरा गुस्ताख लोग एच,
नजरो से चुम लिया करते हैं

आज भी वो संदेश तुम्हारा पता धुंधरा एच..
जिसमे लिखा था..एक बार तो पुचलो कैसा हुं माई

अब क्या लिखना भी बंद कर दू इतना भी हक नहीं मुझे जीने का
तुमने समझौता जो अपना मुझकोना रहा ये जमाना बेगाना
चांद को चुनने की हिम्मत आ गया गया खुद से नजरें मिलाना
आज तो अपनी खामोशी में भीतेरी आवाज पा रहे हैं हम

मुझे एक गलती करने की इज्जत हो तो…
माई फिर से मोहब्बत करुंगा तुमसे

कहां आंसुओं की ये सौगत होगी
नए लोग होंगे नई बात होगी

आँखों से दिन रात बरसात होगी में
आगर जिंदगी सिर्फ जज्बात होगी

जिंदगी जीने के लिए मिली थी,
मैंने उसके इंतजार में बड़ा दिया

मेरे पास मेरे हबीब आ जरा और दिल से करीब आ
तुझे धड़कनों में बस लूं मैं की बिछदाने का कोई डर ना हो

तू नराज़ ना रहा कर तुझे वस्ता है
खुदा का एक तेरा ही चेहरा खुश देख कर तो हम अपना घूम भूलते हैं।

कुछ खास नहीं बस इतनी सी है मोहब्बत मेरी,
हर रात का आखिरी ख्याल और हर सुबह की पहाड़ी सोच हो तुम

अब तक वहाते हैं खुशबुओ एन के काफले,
ले से लिख दिया था तेरा नाम जिस जगा!

अब हम देख भी ना पाओगे
इतने नाज़दीक आ रहे हैं हम

तेरे चेहरे में मेरा नूर होगा
फिर तू ना कभी मुझसे दूर होगा
सोच क्या खुशी मिलेगी जान उस पल
जिस पल तेरी मांग में मेरे नाम का

उसे मुझसे पुचा प्यार क्या है,
मेने काटों पे चल के दिखा दिया,
उसे पुचा कितना प्यार करते हो मुझे,
मैने पुरा आसमान दिखा दीया,
उसे पुचा केसे रखोगे प्यार को,
मेने महकता हुआ गुलाब दिखा दिया,
उसे पुचा केसे रहेंगे मेरे साथ,
मैंने ज़मीन पर अपना साया दीखा दिया।

तुम जिस रास्ते से चाहो आ जाना,
मेरे चारो तारफ मोहब्बत है।

Leave a Comment