100+ जोशीली शायरी इन हिंदी | Joshili Shayari in Hindi

“Fuel your spirit with our collection of 100+ Joshili Shayari. These vibrant verses ignite passion, motivation, and enthusiasm, inspiring you to conquer challenges and embrace life’s adventures. With powerful words, explore the fire within, the determination to overcome obstacles, and the zest for living life to the fullest. Whether you’re seeking a boost of energy or want to celebrate your unstoppable spirit, our Shayari provides a space to channel your inner zeal. Join us in embracing the high-spirited essence of ‘Josh’ through the power of poetic expression.”

Joshili Shayari

मंजिल पे जिन्हें जाना है तूफानों से डरा नहीं करते,
तूफानों से जो डरे मंजिल कभी पाया नहीं करते !

सफलता की कीमत जिंदगी से ज्यादा नहीं,
जो हार से निराश है उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं !

मत पूछो कि मेरी मंज़िल कहाँ है,
अभी तो सफ़र का इरादा किया है,
न हारूँगा हौसला उम्र भर ये,
मैंने किसी से नहीं खुद से वादा किया है !

ये मत सोचो कि जमाने को क्या गवारा है,
क्योंकि ये मजिल भी तुम्हारी है,
और ये सफर भी तुम्हारा है !

जोश कभी कम होने ना देना,
मुसीबत में ख़ुद को रोने ना देना,
यकीन रख सच होंगे तेरे हर सपने,
खुली आँखों को कभी सोने ना देना !

ये कह के दिल ने मिरे हौसले बढ़ाए हैं !
गमों की धूप के आगे ख़ुशी के साए हैं !

वक़्त के साथ हालात भी बदल जाते है,
दिल से कुछ कर गुजरने की ठान ली तो,
हौसले भी बढ़ जाते है !

अपने अंदर के जोश को कभी कम मत होने दो,
हिमत रख एक दिन मंजिल मिलेगी !

मंजिल उन्हीं को मिलती है,
जिनके सपनों में जान है,
पंख से कुछ नहीं होता,
हौसलो से ही उड़ान है !

तेरे गिरने में तेरी हार नहीं,
तू आदमी है अवतार नहीं,
गिर, उठ चल दौड, फिर भाग,
क्योंकि जीत संक्षिप्त है इसका कोई सार नहीं !

जिंदगी में मुश्किलें कितनी भी हो,
कोशिश करते रहिये बेहिसाब,
सफलता एक दिन निश्चित ही मिलेगी यकीन रखिये जनाब !

जो मंजिलों को पाने की चाहत रखते है,
वो समुन्द्रों पर भी पत्थरो के पुल बना देते हैं !

जो फकीरी मिजाज रखते हैं,
वो ठोकरों में ताज रखते हैं,
जिनको कल की फ़िक्र नहीं,
वो मुठ्ठी में आज रखते हैं !

जिन्दगी की हर घड़ी गमो के शाये में गुजर जाएगी,
जब तुम्हे अपनी जिन्दगी में पढ़ाई की कमी नज़र आएगी !

हमारे जोश ने तबाही मचा रखी है,
हर कठिनाई की अकड़ तोड़ रखी है !

कोशिश के बावजूद हो जाती है कभी हार,
होके निराश मत बैठना ऐ यार,
बढ़ते रहना आगे हो जैसा भी मौसम,
पा लेती मंजिल चींटी भी गिर गिर कर कई बार !

जिंदगी बहुत खूबसूरत है जिंदगी से प्यार करो,
अगर हो रात तो सुबह का इंतजार करो,
वो पल भी आएगा जिसका तुझे इंतेज़ार है,
बस खुद पर भरोसा और वक्त पर ऐतवार करो !

मेरे मेहनत के पौधे में एक दिन,
सफलता के फूल भी महकेंगे,
बदलेंगी लकीरें हाथों की तब,
और गर्दिश के सितारे भी चमकेंगे !

खुद को इतना कमजोर मत होने दो,
की तुम्हे किसी के एहसान की जरुरत हो !

मेहनत इतनी ख़ामोशी से करो,
कि सफलता शोर मचा दे !!

अभी तो असली उड़ान बाकी है,
परिंदे का इम्तिहान बाकी है,
अभी अभी तो लांघा है समुंदर,
अभी तो पूरा असमान बाकी है !

वो सपने नहीं जो नींद में आते हैं
सपने तो वो हैं जो हमे सोने नहीं देते !

Leave a Comment