100+ Suraj Shayari in hindi For Girlfriend सूरज शायरी हिंदी में

“100+ Suraj Shayari” is a poetic celebration of the radiant sun and its symbolic significance. With over a hundred verses, this collection illuminates the warmth, hope, and energy that the sun represents. Each shayari paints vivid images of sunrise, resilience, and the power of light in the face of darkness. Whether you’re drawn to the sun’s vitality or seek inspiration from its symbolism, this anthology offers a poetic journey that will brighten your heart and spirit, like the rising sun itself.

Suraj Shayari

हर एक घर में आने दे सूरज की रौशनी
सूरज के आगे बैठ न दीवार खींच कर

हो आए जब गरुर कभी खुद पे आप को
सूरज को देख लेना कभी डूबते हुए

ऐ ख्याल के सूरज तू ही अब संभल वरना
पी चुके अन्धेरे तो रौशनी के धारे तक

सूरज की इक किरण नहीं जिसके नसीब में
उस ना-त्माम रात पर लिखा है मेरा नाम

सर से तेज धूप न जाने टलेगी कब
सूरज जो गर्दिशों का है वो डूबता नहीं

सदियों से पी रहा हैं शबनम कये लहू
शबनम को एक बार तो सूरज पिलाइए

आँधी का कोई खौफ़ न खतरा हवाओं का
मैंने दिए जलाए हैं सूरज को तोड के

उनकी किस्मत का सूरज भी डूबा रहा
देर तक सवेरे जो सोते रहे

मत घबरा ऐ प्यासे दरिया सुरज आने वाला है
बर्फ़ पहाड़ों से पिघलेगी जल ही जल हो जाएगा

दिन में सूरज सताए छाँव बनकर आइए
रात काली हो तो रास्ते का दिया बन जाइए

कुछ ख़्वाबों के ख़त इनमें, कुछ चाँदके आईने सूरज की शुआएँ हैं, नज़मों के लिफाफ़ोंमें कुछ मेरे तजुर्बे हैं कुछ मेरी दुआएँ हैं|

पसीने बाटंता फिरता है हर तरफ सूरज, कहीं जो हाथ लगा तो निचोड़ दूगां उसे

इन अँधेरों से ही सूरज कभी निकलेगा “नज़ीर”, रात के साए ज़रा और निखर जाने दे•

रात के पेड़ पे कल ही तो उसे देखा था, चाँद बस गिरने ही वाला था फ़लक से पक कर, सूरज आया था,ज़रा उसकी तलाशी लेना•

कोई सूरज से ये पूछे के क्या महसूस होता है, बुलंदी से नशेबों में उतरने से ज़रा पहले•

घबराएँ हवादिस से क्या हम जीने के सहारे निकलेंगे, डूबेगा अगर ये सूरज भी तो चाँद सितारे निकलेंगे।।

आप को शब के अँधेरे से मोहब्बत है, रहे, चुन लिया सुबह के सूरज का उजाला मैंने।।

तेरे होते हुए महफ़िल में जलाते हैं चिराग़, लोग क्या सादा हैं सूरज को दिखाते हैं चिराग़•

कभी चाँद चमका ग़लत वक़्त पर, कभी घर में सूरज उगा देर से•

तीरगी चाँद को ईनाम-ए-वफ़ा देती है, रात-भर डूबते सूरज को सदा देती है•

किरन-किरन अलसाता सूरज, पलक-पलक खुलती नींदें, धीमे-धीमे बिखर रहा है, ज़र्रा-ज़र्रा जाने कौन•

चाँद सूरज मिरी चौखट पे कई सदियों से,रोज़ लिक्खे हुए चेहरे पे सवाल आते हैं•

मैं सूरज हूँ कोई मंज़र निराला छोड़ जाऊँगा, उफ़क़ पर जाते जाते भी उजाला छोड़ जाऊंगा।।

किसी दिन तय है सूरज का ठिकाना ढ़ूँढ़ ही लेंगे, उजालों की हमारे पास एक पुख्ता निशानी है।।

चढ़ने दो अभी और ज़रा वक़्त का सूरज, हो जाएँगे छोटे जो अभी साये बड़े हैं।

वो डूबते हुए सूरज को देखता है फराज़, काश मैं भी किसी शाम का मंजर होता।।

सारा दिन बैठा,मै हाथ में लेकर खाली कासा, रात जो गुजरी,चाँद की कौड़ी डाल गई उसमें, सूदखोर सूरज कल मुझसे ये भी ले जायेगा•

रात के राही थक मत जाना, सुबह की मंजिल दूर नहीं, ढलता दिन मजबूर सही ढलता सूरज मजबूर नहीं•

तारीकियों में और चमकती है दिल की धूप, सूरज तमाम रात यहां डूबता नहीं

गिरती हुइ दीवार का हमदर्द हूँ लेकिन, चढ़ते हुए सूरज की परस्तिश नहीं करता•

अपना सूरज तो तुझे ख़ुद हि उगाना होगा, धूप और छाँव के इलहाक़ में क्या ढूँढता है•

है सूरज तुझे मालूम कहां रात का दुख, तू किसी रोज उतर घर में मेरे शाम के बाद।।

काश होता मेरे हाथों में सूरज का निजाम, तेरे रस्ते में कभी धूप न आने देता।।

रौशनी की भी हिफाज़त है इबादत की तरह, बुझते सूरज से चरागों को जलाया जाए।।

नज़दीकियों में दूरका मंज़र तलाश कर, जो हाथमें नहीं है वो पत्थर तलाश कर, सूरज के इर्द-गिर्द भटकने से फ़ाएदा, दरिया हुआ है गुम तो समुंदर तलाश कर।।

आप को शब के अँधेरे से मोहब्बत है, रहे चुन लिया सुबह के सूरज का उजाला मैंने।।

सूरज की किरणों से जैसे मिलता है उजाला, तेरी मुस्कान से ही मेरे दिल को है बहुत प्यारा।

चमकता सूरज है तेरी मुस्कान का साकार, हर पल रहे मेरे दिल में बसा हुआ इंतजार।

सूरज की किरणें बोल रहीं हैं कहानी तेरी, रौशनी में है तेरी मुस्कान साफ़ दिल से प्यारी।

सूरज की रौशनी से भी बढ़कर है तेरी बातें, तू मेरी रौशनी है, तू मेरा सूरज है मेरे साथ।

सूरज की किरणों में बसा है तेरा चेहरा, तू ही है मेरी जिंदगी का सबसे हसीं चेहरा।

सूरज की रौशनी से भी बढ़कर है तेरी मुस्कान, हर पल है मेरे दिल को भरा हुआ प्यार और उम्मीद का इज़हार।

सूरज की किरणें बोल रहीं हैं तेरी कहानी, तेरी मुस्कान है मेरे जीवन की सबसे हसीं कहानी।

सूरज की चमक में है तेरी ये मिठास, तेरे बिना हर सुबह है बेहद वीरान और उदास।

सूरज की किरणों में बसी है तेरी मुस्कान, तू मेरे दिल की रौशनी, तू है मेरे जीवन की मुस्कान।

सूरज की चमक में है तेरी हंसी का आलम, तू मेरे दिल के करीब है, ये है मेरा ख्वाब।

सूरज की किरणों से मिलती है रौशनी, तेरी मुस्कान में है सजीवनी।

रातों की काली रातों में भी तेरी बातें, सूरज की रौशनी में हैं तेरी मीठी मुस्कानें।

सूरज की तपिश में भी है तेरी गर्मी, तेरी हंसी में है सभी ठंडकें।

सूरज की रौशनी में है तेरा सवेरा, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे हसीं पहला कदम।

सूरज की किरणें बोलती हैं तेरे बिना रोज़, तू मेरे दिल की धड़कन, तू है मेरी रोशनी का ख्वाब।

सूरज की रौशनी में है तेरा आभास, तेरी मुस्कान में है सबसे प्यारा इलाज।

सूरज की किरणों में बसा है तेरा रूप, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे मिठा स्वरूप।

सूरज की चमक में है तेरी मिसाल, तेरी हंसी में है जीवन की सबसे हसीं कहानी।

सूरज की किरणों में है तेरी बहार, तू मेरे जीवन की सबसे प्यारी तितलियों की बहार।

सूरज की रौशनी से मिलती है खुशियाँ, तेरी मुस्कान में है हर क्षण की सवारी।

सूरज की किरणों में है तेरी मोहब्बत, तेरी हंसी में है सच्चे प्यार का इज़हार।

सूरज की रौशनी से है सब कुछ सुनहरा, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे मिठा तोहफा।

सूरज की किरणों में बसा है तेरा रहस्य, तू मेरे दिल की धड़कन, तू है मेरा रहस्यमय सवाल।

सूरज की रौशनी में है तेरा साथ, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे खास राज।

सूरज की किरणों से है तेरी चमक, तेरी हंसी में है दिल का सबसे प्यारा ठिकाना।

सूरज की रौशनी में है तेरा आभास, तेरी मुस्कान में है जीवन की सबसे हसीं पहली किरण।

सूरज की किरणें बोलती हैं तेरे बिना रोज़, तू मेरे दिल की धड़कन, तू है मेरी रोशनी का ख्वाब।

सूरज की रौशनी में है तेरा सवेरा, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे हसीं पहला कदम।

सूरज की किरणों में बसी है तेरी मुस्कान, तू मेरे दिल की रौशनी, तू है मेरी रोशनी का ख्वाब।

सूरज की किरणों में है तेरी छाया, तेरी मुस्कान में है जीवन की सबसे प्यारी बातें।

सूरज की रौशनी से है तेरा प्यार, तेरी हंसी में है सच्चे दिल की बातें।

रौशनी से है तेरी मुस्कान में रात, सूरज की किरणों में है तेरे साथ सवेरा।

सूरज की रौशनी से है तेरी मुस्कान की बहार, तेरी ये हंसी है मेरे जीवन की सबसे मिठी तार।

सूरज की चमक में है तेरी रौशनी, तेरी मुस्कान है मेरे दिल की मिठास का कारण।

सूरज की किरणों में है तेरी मुस्कान की बहार, तू है मेरे दिल की रौशनी, तू है मेरा सवेरा।

सूरज की रौशनी में है तेरी मुस्कान का इत्मिनान, तेरी इस हंसी में है मेरे दिल की शांति का स्थान।

सूरज की किरणों में बसी है तेरी बहार, तेरी मुस्कान में है मेरे दिल की सबसे प्यारी तस्वीर।

सूरज की रौशनी में है तेरा सवेरा, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे हसीं पहला कदम।

सूरज की किरणों में बसी है तेरी मुस्कान, तू मेरे दिल की रौशनी, तू है मेरा रोशनी का ख्वाब।

सूरज की रौशनी में है तेरा साथ, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे खास राज।

सूरज की किरणें बोलती हैं तेरे बिना रोज़, तू मेरे दिल की धड़कन, तू है मेरी रोशनी का ख्वाब।

सूरज की रौशनी में है तेरा सवेरा, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे हसीं पहला कदम।

सूरज की किरणों में बसी है तेरी मुस्कान, तू मेरे दिल की रौशनी, तू है मेरा रोशनी का ख्वाब।

सूरज की रौशनी से है तेरा प्यार, तेरी हंसी में है सच्चे दिल की बातें।

रौशनी से है तेरी मुस्कान में रात, सूरज की किरणों में है तेरे साथ सवेरा।

सूरज की रौशनी से है तेरी मुस्कान की बहार, तेरी ये हंसी है मेरे जीवन की सबसे मिठी तार।

सूरज की चमक में है तेरी रौशनी, तेरी मुस्कान है मेरे दिल की मिठास का कारण।

सूरज की किरणों में बसा है तेरा रहस्य, तू मेरे दिल की धड़कन, तू है मेरा रहस्यमय सवारी।

सूरज की रौशनी में है तेरा साथ, तेरी मुस्कान में है जीवन का सबसे खास राज।

Leave a Comment