100+ चांदनी रात पर शायरी- Chandni Raat Shayari in Hindi | रात पर शायरी

“100+ Chandni Raat Shayari” is a poetic ode to the enchanting beauty of moonlit nights. With over a hundred verses, this collection captures the romance, mystique, and serenity of chandni raat (moonlit nights). Each shayari is a lyrical journey under the shimmering moonlight, invoking emotions of love, longing, and nostalgia. Whether you’re an admirer of the night’s celestial beauty or a lover seeking to express your feelings, this anthology offers a luminous tapestry of verses that will transport you to the magical world of moonlit reverie.

Chandni Raat Shayari

अँधेरी है रात, तू उजाला बनकर आ जा,

चाँद के साथ, तू चांदनी रात बनकर आ जा  

इस चांदनी रात में गर कोई नज़र आये तो, 

समझ लेना महबूब आया था मेरा, 

क्यूंकि इस रात के बाद गर कोई खूबसूरत है तो वो है ||

चाँद से प्यारी चाँदनी, 

और चाँदनी से प्यारी रात, 

रात से प्यारी किरणे, और 

किरणों से प्यारे आप !! 

मैं शाम लिखू तू रात कह देना !

में चाँद लिखू तू हर बात कह देना !

मैं ख़ामोशी लिखूं तू बस मुस्कुरा देना !

मैं जज़्बात लिखूं तू वह बात समझ लेना !

मैं तेरा नाम लिखू,तू इश्क़ कह देना !! 

मेरे चाँद गुज़र मेरी खिड़की से, 

   तुझे माथे पे 

अपने सजा लूँ में, 

तुझे बांध लूँ अपनी जुल्फों से, 

तुझे अपना रब बना लूँ में, 

चाँदनी रात

“सितारों की महफ़िल में 

   करके इशारा

कहा अब तो सारा 

जहाँ है तुम्हारा 

मोहब्बत जवां हो 

खुला आसमान हो 

करे कोई दिल 

आरज़ू और क्या 

ये रातें, ये मौसम, 

नदी का किनारा 

ये चंचल हवा “

हर रात चांदनी रात नहीं होती, 

हर दोस्त में आप जैसी बात नहीं होती, 

ना जाने कौन सी सजा दे रहा है खुदा, 

जो आज कल हमारी आपकी बात नहीं होती !!

“चाँदनी रात” 

हर रास्ता एक सफर चाहता है !

हर मुसाफिर एक हमसफ़र चाहता है !

जैसी चाहती है चांदनी चाँद को !

इस कदर ही हम आपको चाहते है !!

हक़ीक़त ना सही तुम ख्वाब की तरह 

          मिला  करों 

             भटके हुएँ मुसाफिर को तुम 

                       चाँदनी रात की 

तरह मिला करो  बर्बाद होगा 

       ये गरीब दोनों पहलूँ में 

                    कच्चे घर पर मेरे तुम बरसात की   

                           तरह मिला  करों 

हल्का हल्का ज़िक्र आएं हर साँस में तेरा 

एक दफा तुम मुझको उस मुलाकात की 

    तरह मिला करों !!

चाँद न चांदनी  को याद किया !

रात न सितारों को याद किया !

  हमारे पास ना तो 

     चाँद है और ना चाँदनी 

इसीलिए हमने अपने चाँद से 

प्यारे महबूब को याद किया !!

कितने तारे हैं आसमान में 

    पर चाँद जैसा नहीं 

कितने चेहरे हैं इस जमीं पर 

पर तेरे जैसा नहीं !!

मुझे तुम बहुत अच्छे लगते हो !

एक दम अपने और सच्चे लगते हो !

साथ रहेंगे और सितारों को देखेंगे !

और सारी सारी रात बिता देंगे !

तुम रहना वफादार तुम्हे चाँद 

       लाकर नहीं 

उस पर लेजा कर बिठा देंगे !!

ज़िन्दगी जब भी तेरी बज़्म में लाती है हमें 

यह ज़मीं चाँद से बेहतर नज़र आती है हमें 

सुर्ख फूलों से महक उठती है दिल की राहें 

दिन ढले यूं तेरी आवाज़ बुलाती है हमें 

यादें तेरी कभी दस्तक,कभी सरगोशी, से 

रात के पिछले पहर रोज़ जगाती है हमें 

काश मेरा भी ऐसा नसीब हो कि 

मेरी भी हर रात मेरे जानू  की 

        बाहों में हों !!

रहने दो ज़ुल्फ़ों को चेहरे 

       पर यूँ ही !!

ये चाँद बादलो में ज़्यादा 

   हसीं लगता है !!

रात में जब ये चाँद सितारे चमकते है, 

हम भी हर पल आपकी याद में तड़पते है, 

आप तो चले जाते हों छोड़कर हमें,

हम तो रात भर आपसे मिलने को तरसते है,

ये सितारें चाहते है की रात आएं, 

क्या लिखें जो आपका जवाब आएं, 

सितारों की चमक तो नहीं है मुझमे,

लेकिन हम ऐसा क्या करें कि आपको,

       हमारी याद आएं !! 

चाँद सितारों का नूर आप पर बरसे, 

हर कोई आपकी दोस्ती को तरसे, 

जिंदगी में आप पर इतनी खुशियां बरसे, 

की आप एक गम को तरसे !!

रात को रात का तोहफा नहीं दिया जाता !

फूल को फूल का तोहफा नहीं दिया जाता, 

देने को हम आपको चाँद भी दे सकते है !

लेकिन चाँद को चाँद का तोहफा नहीं दिया जाता !!

किसने कहा हमें आपकी याद नहीं आती !

आपको ना सोचें ऐसी कोई रात नहीं जाती !

     वक्त बदल जाता है !

      आदतें नहीं बदलती !

आप खास हो ये बात सबसे कही नहीं जाती !!

कितनी हसीं चांदनी रात थी !

जब वो बैठी मेरे पास थी !

प्यारी,प्यारी बातें कर रहे थे दोनों !

लग रहा था कि अब वो मेरे साथ थी !

सपने में ही सही मगर वो मुलाक़ात !

    बड़ी ख़ास थी !!

चाँदनी रात में वो झील सी आँखे उसकी !

        जिन में लहरें भी न थी 

       चाँद का झिलमिल भी न था ! 

एक तसव्वुर था सराबों से भरे सहरा का !

    ऐसा दरया था कि पानी न था !

ज़िन्दगी उसके बिना मर के गुज़ारी क्योंकि !

भूलना उसको भी मेरे लिए मुश्किल न था !

तारे पूछते है मेरा चाँद कहा !

चाँद पूछता है मेरी चाँदनी कहा !

     और रात पूछती हैं 

तीनो के बिना मज़ा कहा !!

चांदनी रात में बस आपको देखते रहें 

      बस एक यही सपना 

मेरा पूरा हो जाये !!

आपकी याद आती रही रात भर 

चाँदनी दिल दुखाती रही रात भर 

एक उम्मीद से ये दिल बहलता रहा 

एक तमन्ना सताती रही रात भर !!

लफ़्ज़ों से बयां कर ना पाते आपकी 

   तारीफ ए हुस्न को !

आप तो बस्ते हो ख्वाब में 

     चाँदनी रात की तरह !

भूला नहीं पाते आपकी नूर ए सूरत  

              को हम !  

आप तो रहते हो यादों में 

ढलती शाम की तरहा !!

उदास नहीं होना क्योंकि 

  मैं साथ हूँ 

सामने ना सही पर 

     आस पास हूँ 

पलकों  बंद कर के 

    दिल में देखना 

मैं हर पल तुम्हारे साथ हूँ !!

Chandni Raat 

मैं अँधेरा था इस तरह 

बेबसी ने घेरा था 

वो किसी और का हुआ आज

जो कल तक सिर्फ मेरा था !! 

इस गहरी रात में उनकी याद का 

    झोंका फिर आ गया !!

हैं खुशनसीब हम बहुत क्योंकि 

खवाबों में उनसे मिलने का मौका 

          फिर गया !!

इन आँखों को जब तेरे चाँद जैसे 

चेहरे का दीदार हो जाता है !

सच कहूं तो दिन कोई सा भी हो 

लेकिन त्यौहार हो जाता है !!

चाँदनी रातों में कुछ भीगे ख्यालो की तरह 

मैने चाहा तुम्हे दिन के उजालों की तरह 

गुज़रे थे जो कुछ लम्हें तुम्हारे साथ 

मेरी यादों में चमकते है वो सितारों 

           की तरह !!

  चांदनी रात 

तुम पूछ लेना सुबह से 

न यकीन हो तो शाम से 

ये दिल धड़कता है तेरे ही नाम से !!

कितना हसीं चाँद सा चेहरा है 

उस पर सबाब का रंग गहरा है 

खुदा को यकीं नहीं था वफ़ा पर 

तभी तो एक चाँद पर हज़ारों का पहरा है !

चाँद का क्या कसूर 

अगर रात ही बेवफा निकली 

कुछ पल के लिए ठहरी और 

  फिर चल निकली 

उनसे क्या कहे वो तो सच्चे थे 

हमारी तक़दीर ही हमसे खफा निकली !!

ऐ चाँद तू भी भूल जाएगा 

   अपने आप को 

जब सुनेगा दास्ताँ मेरे 

    प्यार की 

क्यूँ करता है गुरुर तू

    अपने आप पर इतना 

तू तो सिर्फ परछाई है मेरे 

   यार की !!

ना चाँद चाहिए 

ना फलक चाहिए 

मुझे बस तेरी एक 

झलक चाहिए 

चाँद रात मुबारक जान !!

हंसी रात में छाई है सुकून की बातें, चाँदनी रात में हैं मोहब्बत की रातें।

हंसी रातों में है मिलने का इंतजार, बिछाई हुई रात में हैं प्यार के ख्वाब।

रातें हंसी की भरी हैं कहानियों से, हैंदनी रात में हैं दिल की बातें।

हंसी रात में है सितारों की चमक, हैंदनी रात में है दिल की बातों की बातें।

चाँदनी रातों में है रोमांटिक मौसम, हैंदनी रात में है सपनों की बातें।

हंसी रात में है सुलगते दिलों की बातें, बीती रातों में हैं यादों की मिठास।

रातें हंसी से भरी हैं रोमांटिक कहानियों से, हैंदनी रात में है सच्चे प्यार की बातें।

हंसी रात में है सितारों की रौंगत, हैंदनी रात में हैं दिल के करीब की बातें।

रातें हंसी से रंगी हैं प्यार भरी बातों से, हैंदनी रात में हैं मोहब्बत के इशारों से।

हंसी रात में है बहुत सारी कहानियां, हैंदनी रात में हैं दिलों की मुलाकातें।

रात की चाँदनी में है हंसी की रातें, हैंदनी रात में हैं प्यार के सफर की बातें।

हंसी रात में है ख्वाबों का आलम, बीती रातों में हैं सपनों की मल्लिका।

रात की सनसनी में है खोई बातें, हैंदनी रात में हैं दिल की छू जाने वाली मुलाकातें।

हंसी रात में है रोमांटिक माहौल, हैंदनी रात में हैं मोहब्बत की कहानियां।

रात की सितारों में है चमकीली रातें, हैंदनी रात में हैं सीने में छूपे दिल की बातें।

हंसी रात में है दिलों की धड़कन, बीती रातों में हैं प्यार भरी रातें।

रात की काली रातों में है खुले आसमान, हैंदनी रात में हैं खुदा से मिले मोमेंट्स।

हंसी रात में है बहुत ही खास बातें, हैंदनी रात में हैं सपनों की सुबह।

रात की सुनहरी रातों में है ख्वाबों की मल्लिका, हैंदनी रात में हैं दिल की धड़कन।

हंसी रात में है रोमांटिक बातों की मिठास, बीती रातों में हैं प्यार भरी मुलाकातें।

रात की सुनहरी रातों में है सपनों की सवारी, हैंदनी रात में हैं दिल की प्यारी बातें।

हंसी रात में है रोमांटिक माहौल, हैंदनी रात में हैं मोहब्बत की कहानियां।

रात की सितारों में है चमकीली रातें, हैंदनी रात में हैं सीने में छूपे दिल की बातें।

हंसी रात में है दिलों की धड़कन, बीती रातों में हैं प्यार भरी रातें।

रात की काली रातों में है खुले आसमान, हैंदनी रात में हैं खुदा से मिले मोमेंट्स।

हंसी रात में है बहुत ही खास बातें, हैंदनी रात में हैं सपनों की सुबह।

रात की सुनहरी रातों में है ख्वाबों की मल्लिका, हैंदनी रात में हैं दिल की धड़कन।

हंसी रात में है रोमांटिक बातों की मिठास, बीती रातों में हैं प्यार भरी मुलाकातें।

रात की सुनहरी रातों में है सपनों की सवारी, हैंदनी रात में हैं दिल की प्यारी बातें।

हंसी रात में है रोमांटिक माहौल, हैंदनी रात में हैं मोहब्बत की कहानियां।

रात की ताजगी में है हंसी की रौशनी, हैंदनी रात में हैं दिल की गहराईयों की बातें।

हंसी रात में है चाँद की रौनक, बीती रातों में हैं तेरी बातों की खोज।

रात की सनसनी में है हंसी का साज, हैंदनी रात में हैं दिल का धड़कना तेरे बिना।

हंसी रात में है सितारों की चमक, बीती रातों में हैं सपनों का सफर।

रात की सितारों में है सुलगती बातें, हैंदनी रात में हैं मोहब्बत के इशारों से।

हंसी रात में है दिलों की सौगात, बीती रातों में हैं प्यार की मिठास।

रात की सुनहरी रातों में है दिल की धड़कन, हैंदनी रात में हैं मोहब्बत के ख्वाबों की बातें।

हंसी रात में है रोमांटिक कहानियों की किताब, बीती रातों में हैं दिल की गहराईयों की राज़।

रात की चाँदनी में है हंसी की बहार, हैंदनी रात में हैं दिल की रौशनी।

हंसी रात में है तेरे साथ बिताए लम्हों की याद, बीती रातों में हैं तेरे साथ बिताए लम्हों की बहार।

रात की मिठास में है हंसी की बातें, हैंदनी रात में हैं दिल की बेहद मुलाकातें।

हंसी रात में है बहुत सारे राज़, बीती रातों में हैं सच्चे दिल के सवाल।

रात की सौंदर्यता में है हंसी का जादू, हैंदनी रात में हैं दिल की सुरीली आवाज़।

हंसी रात में है तेरी मुस्कान की मिठास, बीती रातों में हैं तेरी बातों की राहत।

रात की सुकूनियत में है हंसी की छाया, हैंदनी रात में हैं दिल की प्यारी बातें।

हंसी रात में है तेरी बातों का नज़ारा, बीती रातों में हैं तेरे साथ बिताए पल।

रात की राहों में है हंसी की बदली, हैंदनी रात में हैं दिल की बातों का सफर।

हंसी रात में है रातों का माहौल, बीती रातों में हैं सपनों का आवास।

रात की चाँदनी में है हंसी की रातें, हैंदनी रात में हैं प्यार भरी बातें।

हंसी रात में है तेरी मुस्कान की मिठास, बीती रातों में हैं तेरी बातों की राहत।

Leave a Comment